Wednesday, October 19, 2011

भारत का अंतिम हिंदु सम्राट एक वैश्य था.

आपको विश्वास न होगा यह सुनकर कि भारत का अंतिम हिंदु सम्राट एक वैश्य था. वह दिल्ली का आखिरी हिंदु सम्राट था, हेम चन्द्र विक्रमादित्य. जो कि हेमू विक्रमादित्य  के नाम से मशहूर था. वह बिहार के सासाराम जनपद के एक रौनियार वैश्य परिवार से सम्बंधित था. उसका शासन १६ वी शताब्दी में था. उसके पिता रेवाड़ी में एक व्यापारी थे. हेमू सूरी वंश के आदिलशाह सूरी का प्रधानमंत्री व सेनापति था. वह अफ्घान विद्रोहियों से पंजाब और बंगाल में लड़ता रहा और उन्हें परास्त किया . अकबर व हुमायु व अफ्घन विद्रोहियों से  उसने २२ युद्ध जीते . ७ अक्टूबर १५५६ को वह दिल्ली का सम्राट बना और विक्रमादित्य की उपाधि से घोषित किया गया. उनका राजभिषेक दिल्ली के पुराना किले में किया गया. और हिन्दू शाही की ३५० साल बाद फिर स्थापना की. पानीपत की लड़ाई में अकबर ने हेमू की धोके से गर्दन काट दी. व गाजी कहलाया. यदि यह युद्ध हेमू जीत जाता तो भारत का इतिहास ही बदल जाता. पर इतिहास में  हेमू को याद नहीं किया जाता, व मुग़ल सल्तनत को महान बताया जाता हैं. यह कितनी शर्म की बात हैं. आज भी दिल्ली में उनका एक भी स्मारक नहीं  हैं. पर जिन्होंने हमें गुलाम बनाया उनके नाम पर सड़के व स्मारक  बने हुए हैं, हेमू पर हमें गर्व हैं. उस वैश्य वीर को शत शत नमन.




1 comment:

हमारा वैश्य समाज के पाठक और टिप्पणीकार के रुप में आपका स्वागत है! आपके सुझावों से हमें प्रोत्साहन मिलता है कृपया ध्यान रखें: अपनी राय देते समय किसी प्रकार के अभद्र शब्द, भाषा का प्रयॊग न करें।