वैश्य प्रशासनिक अधिकारी-मंत्री-सामंत-सेनापति

वैश्यों की राजनितिक भूमिका के क्रम में अब हम उन वैश्य प्रशासनिक अधिकारियों यथा-मंत्री, अमात्य, राज्यपाल आदि का उल्लेख करेंगे, जिन्होंने रणभूमि में अपनी वीरता एवं शौर्यता का उदाहरण प्रस्तुत करते हुए कुशल योद्धा होने का परिचय दिया हैं. (साभार: प्राचीन भारत में वैश्य समुदाय की स्थिति और उसकी भूमिका).

No comments:

Post a Comment

हमारा वैश्य समाज के पाठक और टिप्पणीकार के रुप में आपका स्वागत है! आपके सुझावों से हमें प्रोत्साहन मिलता है कृपया ध्यान रखें: अपनी राय देते समय किसी प्रकार के अभद्र शब्द, भाषा का प्रयॊग न करें।